महाराष्ट्र: चीनी मिलें ऑक्सीजन निर्माण के लिए तैयार, उस्मानाबाद में कल से उत्पादन होगा शुरू

145

कोल्हापुर: बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच महाराष्ट्र का चीनी उद्योग मदद करने के लिए आगे आया है। लोकमत में प्रकाशित खबर के मुताबिक, कोरोना संक्रमित लोगो के इलाज के लिए मेडीकल ऑक्सीजन की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए, महाराष्ट्र में लगभग 25 मिलें ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी हैं। इसके लिए जरुरी 600 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के मिलों ने ऑर्डर दिए हैं और आयात किये जा रहे है।

उस्मानाबाद की धाराशिव मिल में कल से मेडिकल ऑक्सीजन का उत्पादन शुरू किया जायेगा। यहाँ हालही में किये गए ऑक्सीजन निर्माण के ट्रायल में सफलता हासिल की गयी है।

मिलों को ऑक्सीजन निर्माण के लिए डिस्टलरी में थोडा बदलाव करना होगा। पुरे देश में कोरोना का कहर जारी है, और कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने से अस्पतालों को मेडिकल ऑक्सीजन की कमी का सामना करना पड़ रहा है। ऑक्सीजन की कमी से लोगो को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इसके चलते राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के प्रमुख शरद पवार ने मिलों को ऑक्सीजन उत्पादन करने की अपील की थी।

उस्मानाबाद जिले में धाराशिव मिल के साथ साथ बारामती एग्रो यूनिट 1, नेचुरल शुगर इंडस्ट्रीज और कोल्हापुर में दत्त -डालमिया मिल में मई के अंत तक या जून में ऑक्सीजन उत्पादन शुरू होगा। एक स्किड माउंटेड प्लांट की निर्माण लागत लगभग 50 लाख रूपये है। मिलों में प्रति दिन 100 सिलिंडर का उत्पादन हो सकता है। उन्हें उचित दरों में पास के सरकारी और निजी अस्पतालों आपूर्ति की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here