121 वर्षों में मई में दूसरी बार सबसे अधिक बारिश

99

नई दिल्ली: 121 वर्षों में मई में दूसरी बार सबसे अधिक बारिश हुई। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने गुरुवार को अपनी मासिक रिपोर्ट में रिकॉर्ड वर्षा के लिए दो बैक-टू-बैक चक्रवात और पश्चिमी विक्षोभ को जिम्मेदार ठहराया। इस मई में भारत का औसत अधिकतम तापमान 1901 के बाद चौथा सबसे कम 34.18 डिग्री सेल्सियस पर था। आईएमडी ने कहा कि, मई में अब तक का सबसे कम तापमान 1917 में 32.68 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। उन्होंने कहा कि, भारत के किसी भी हिस्से में महीने के दौरान कोई महत्वपूर्ण गर्मी की लहर नहीं देखी गई।

मई 2021 के महीने में पूरे देश में 107.9 मिलीमीटर बारिशु हुई है। मई में अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में एक-एक चक्रवात का निर्माण हुआ। तौकते अरब सागर के ऊपर बना और एक अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान के रूप में विकसित हुआ। पश्चिमी तट से लगे राज्यों के साथ साथ यह 17 मई को गुजरात तट से टकराया था। चक्रवात यास बंगाल की खाड़ी के ऊपर विकसित हुआ और यह 26 मई को ओडिशा तट से टकराया और पश्चिम बंगाल को भी प्रभावित किया। इन दोनों चक्रवात के कारण न केवल पश्चिमी और पूर्वी तटों के राज्यों में बल्कि देश के अन्य हिस्सों में भी बारिश हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here