देहुगांव में एक अत्याधुनिक गन्ना नर्सरी स्थापित

197

पुणे : चीनी मंडी – हवेली तालुका में देहुगांव के विठ्ठलवाड़ी के युवा किसान जालिंदर मधुकर ने पहली छोटी लागत वाली संशोधित गन्ना (सुपर केन नर्सरी) बनाई है। सुपर केन नर्सरी के लिए प्लास्टिक ट्रे, कॉकपिट की कोई आवश्यकता नहीं होती है। कवकनाशी और कीटनाशकों के उपयोग से स्वस्थ अंकुर पैदा होते हैं। जुन्नर तालुका के जाधववाड़ी गाँव के उत्तम जाधव और बोरी खुर्द गाँव के बाबाजी बांगर ने सुपर गन्ना नर्सरी बनाने के लिए यथायोग्य निर्देश दिए और सहायता कि। इस अवसर पर देहू- मोशी मंडल कि कृषि सहायक मनीषा शिरसाठ, विकास ह्गवने, वसंत ह्गवने, अशोक कालोखे, चंद्रसेन टिलेकर, अंकुश ह्गवने, सागर ह्गवने उपस्थित थे।

मनीषा शिरसाठ ने कहा की पारंपरिक विधि की तुलना में नर्सरी के लिए केवल 300 किलोग्राम गन्ने की आवश्यकता होती है। एक एकड़ में औसतन 10 हजार रुपयों की बचत होती है। प्रति एकड़ आठ से दस लाख लीटर पानी बचता है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here