चीनी उद्योग के सामने और एक बडी मुश्किल?

844

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

नई दिल्ली : चीनी मंडी

पिछले दो से तीन सालों में रिकॉर्ड चीनी उत्पादन के कारण आर्थिक संकट में डूबे चीनी उद्योग के सामने और एक मुश्किल खड़ी हो सकती है, क्योंकि मोदी सरकार-2.0 द्वारा पेश किये जाने वाले आगामी बजट में ज्यादा चीनी की मात्रा वाले उत्पादों पर टैक्स बढ़ाने का प्रस्ताव विचाराधीन है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ शुक्रवार को हुई बैठक में सामाजिक क्षेत्र के प्रतिनिधियों ने यह सुझाव दिया की, ज्यादा चीनी मात्राओं वाले उत्पादों पर ज्यादा टैक्स लगाया जाए। अगर ऐसा टैक्स लगता है, तो इसका सीधा असर चीनी उद्योग पर पड़ सकता है।

बैठक के दौरान प्रतिनिधियों ने वित्त मंत्री से स्वास्थ्य समस्याओं का हवाला देते हुए, अधिक चीनी वाले उत्पादों पर टैक्स बढ़ाने का सुझाव दिया। उन्होंने दावा किया की, टैक्स बढ़ाने से सरकार को ज्यादा राजस्व मिलेगा और लोग भी इन वस्तुओं को खाने से परहेज करेंगे। लोग अगर मीठी चीजें खरीदने से परहेज करेंगे तो इसका सीधा असर चीनी उद्योग पर दिखने की संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here