उत्तर प्रदेश में अधिकांश चीनी मिलें मई के अंत तक होगी बंद

152

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में वर्तमान में चल रहे अधिकांश मिलें इस महीने के अंत तक बंद होने की उम्मीद है, हालांकि, कुछ जून 2021 में काम करना जारी रख सकते हैं। राज्य के पश्चिमी क्षेत्र में वर्तमान पेराई सत्र कुछ दिनों के लिए लम्बा हो गया है क्योंकि अधिकांश गुड़ / खांडसारी इकाइयों ने लॉकडाउन प्रतिबंधों के कारण अपना परिचालन बंद कर दिया है, जिसके कारण कुछ गन्ना जो उनके पास जाने वाला था अब वो चीनी मिलों को डायवर्ट किया गया है।

इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (ISMA) की हालही में जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार, उत्तर प्रदेश की चीनी मिलों ने 15 मई, 2021 तक 108.70 लाख टन चीनी का उत्पादन किया है, जो पिछले साल इसी तारीख को उनके द्वारा उत्पादित 122.28 लाख टन की तुलना में 13.58 लाख टन कम है। इस वर्ष संचालित 120 मिलों में से 99 मिलों ने अपनी पेराई समाप्त कर दी है और 21 मिलों ने अपना परिचालन जारी रखा है, जबकि पिछले साल 15 मई 2020 तक 46 मिलों द्वारा संचालन जारी था।

महाराष्ट्र में भी लगभग पेराई सत्र समाप्त हो चूका है। राज्य में आधिकारिक आकड़ों के मुताबिक अभी भी चार चीनी मिलों में पेराई सत्र जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here