कर्नाटक: राज्य सरकार द्वारा बजट में चीनी मिलों को कोई पैकेज नहीं, गन्ना किसान नाराज

148

मांड्या: मांड्या के किसानों ने गुरुवार को मुख्यमंत्री येदियुरप्पा द्वारा पेश किए गए राज्य के बजट पर नाराजगी जताई, क्योंकि सरकार द्वारा किसी भी पैकेज में माईशुगर और PSSK चीनी मिलों को पुनर्जीवित करने की घोषणा नहीं की गई। किसानों ने केआरपेट उपचुनाव में बीजेपी की झोली में वोट डालकर पहली बार मांड्या में बीजेपी को अपना खाता खोलने में मदद की। किसानों ने मुख्यमंत्री पर अपनी बात नहीं रखने और उनकी सारी उम्मीदों पर पानी फेरने का आरोप लगाया।

किसानों का आरोप है की इससे पहले, येदियुरप्पा ने अपने होम डिस्ट्रिक्ट मांड्या में माईशुगर और PSSK चीनी मिलों को पुनर्जीवित करने का वादा किया था। किसान उम्मीद कर रहे थे कि, मुख्यमंत्री मिलों को पुनर्जीवित करने के लिए धन आवंटित करेंगे या उन्हें बचाने के उपायों की घोषणा करेंगे। किसानों ने कहा, ‘हमने येदियुरप्पा पर अपनी उम्मीद जताई थी। हम दोनों मिलों के पुनर्जीवन के लिए एक पैकेज की उम्मीद कर रहे थे। बीजेपी को वोट देने और यहां पैर जमाने में मदद करने के बावजूद, येदियुरप्पा ने मांड्या के बारे में हमारी आशाओं को बजट में उचित हिस्सा नही दिलाया।” बजट में मांड्या को नजरअंदाज करने के लिए येदियुरप्पा को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भी काफी ट्रोल किया जा रहा है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here