तनपुरे चीनी मिल में एक रुपये का भी भ्रष्टाचार नही: खासदार डॉ. सुजय विखे पाटिल का दावा

306

अहमदनगर: राहुरी के गन्ना उत्पादकों ने हमें बहुत विश्वास के साथ डॉ. तनपुरे चीनी मिल की जिम्मेदारी सौपी है और पिछले दो वर्षों से इस चीनी मिल को अच्छी तरह से चला रहे हैं, मिल में किसने भी एक रुपये का भ्रष्टाचार दिखाया, तो मै सांसद पद के साथ ही मिल के निदेशक पद से इस्तीफा दूंगा, ऐसा खासदार डॉ. सुजय विखे पाटिल ने कहा।

रविवार को डॉ. तनपुरे सहकारी चीनी मिल की 67 वीं वार्षिक आम बैठक में विखे पाटिल बोल रहे थे। मिल के अध्यक्ष उदय सिंह पाटिल प्रमुख उपस्थित थे। विखे ने कहा, मिल के कर्मचारियों और सदस्यों के भारी सहयोग के कारण, पिछले दो खराब मौसम भी सफलतापूर्वक पूरे हुए हैं। इस साल तालुका में 1.5 लाख टन गन्ना उपलब्ध हैं और जिले की सभी चीनी मिलों की नजर इस गन्ने पर हैं। गन्ने की कमी के कारण इस सीजन में डॉ. तनपुरे मिल शुरू करने से मिल को वित्तीय कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। इस साल हुई अच्छी बारिश के कारण, अगले सीजन में लगभग 14 लाख मीट्रिक टन गन्ना उपलब्ध होगा, अगले साल  हम कोशिश करेंगे कि तनपुरे मिल को वित्तीय संकट से बाहर निकाला जाए। उन्होंने कहा की, मिल के सामने कई आपदाएँ है, इसलिए मिल की जमीन बेचने का एकमात्र विकल्प है। अगर जमीन बेची जाती है, तो तनपुरे मिल बच सकती है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here