चीनी मिलों के प्रबंधन को नोटिस जारी

65

बागपत, उत्तर प्रदेश: जनपद में वर्त्तमान पेराई सत्र के लंबित भुगतान से गन्ना किसान नाराज है। पेराई समाप्त होने के बावजद मिलें भुगतान करने में नाकम साबित हुई है। जिले की तीन चीनी मिलों के पास अब भी करोड़ों रुपये बकाया है। लंबित भुगतान मामले में जिला प्रशासन भी सख्त हुआ है, और डीएम राज कमल यादव ने तीन मिलों के प्रबंधन को नोटिस जारी कर कार्रवाई की चेतावनी दी है।

जागरण डॉट कॉम में प्रकाशित खबर के मुताबिक, मलकपुर चीनी मिल पर 461 करोड़, रमाला और बागपत सहकारी चीनी मिलों पर 259 करोड़ रुपये गन्ना भुगतान बकाया है। इतना ही नही दूसरे जिलों की चीनी मिलों पर भी बागपत के हजारों किसानों का गन्ना भुगतान बकाया है। भुगतान को लेकर किसान संघठन और विपक्षी दल भी आक्रामाक हुए है, उन्होंने राज्य सरकार को घेरने की कोशिश शुरू की है।

राज्य सरकार का कहना है की उन्होंने अपने कार्यकाल में रिकॉर्ड गन्ना भुगतान किया है। पिछले सत्र का शत प्रतिशत गन्ना भुगतान हुआ है। वर्त्तमान पेराई सत्र के बकाया भुगतान के लिए भी प्रशासन अहम कदम उठा रही है।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here