छह चीनी मिलों पर हो सकती है सख्त कार्रवाई

296

बिजनौर: गन्ना किसानों के 585 करोड़ रुपए का बकाया समय से न चुकाने के आरोप में राज्य सरकार ने जिले की छह चीनी मिलों को दोबारा नोटिस भेजा है और कहा कि भुगतान यदि जल्द नहीं किया गया तो सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

गन्ना किसानों का कहना है कि चीनी मिलें उनसे गन्ना ले लेती हैं, पेराई करती हैं, लेकिन उनके गन्ने का पैसा नहीं चुकातीं जबकि नियम है कि गन्ना देने के 14 दिन के भीतर पेमेंट हो जाना चाहिए।

जिले के गन्ना अधिकारी यशपाल सिंह ने कहा कि किसानों के पैसे समय से दिलाने की कोशिश की जा रही है और मिलों को 14 दिन के अंदर भुगतान करने को आदेश दिया गया है।

किसानों ने कहा कि ऐसा नहीं कि मिलें बंद हैं, यहां जोरशोर से पेराई का काम शुरु है। इन मिलों को पहले भी सरकार नोटिस परोस चुकी है। लेकिन इनके कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही। इन्होंने सरकारी आदेशों को ताक पर रख दिया है।

वैसे भी उप्र की चीनी मिलों की हालत खस्ताहाल है। अमर उजाला में प्रकाशित खबर के मुताबिक, बिजनौर चीनी मिल पर 57 करोड़, चांदपुर चीनी मिल पर 89.55, बरकातपुर चीनी मिल पर 105.57, बिलाई चीनी मिल पर 203, स्योहारा चीनी मिल पर 80.22 तथा धामपुर चीनी मिल पर 50.55 करोड़ रुपया बकाया है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here