चीनी के वितरण के लिए बनेगा ऑनलाइन सिस्टम

1027

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

05 जून, नयी दिल्ली : केन्द्र की नई सरकार देश के गरीब और निर्धन लोगों के कल्याण के लिए प्रतिबद्द है। सरकार की योजनाओं का फायदा जरूरत मंद व्यक्तियों को मिले इसके लिए सरकार तेजी से काम कर रही है। मीडिया से चर्चा के दौरान गरीबों को वितरित किए जाने वाले राशन की चीनी के कोटे में धाधली और कालाबाजारी पर चर्चा करते हुए मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि कई राज्यों से शिकायतें मिली है कि गरीबों को दी जाने वाली चीनी में घालमेल किया जा रहा है। इस तरह की शिकायतों के निवारण के लिए ऑन लाइन डिजीटल सिस्स्टम को सरकार बढ़ावा दे रही है। ताकि बिना धांधली के वाजिब हकदार को ही शुद्द और गुणवत्ता पूर्ण चीनी मिले। चीनी में मिलावट खोरों की सक्रियता पर जवाब देते हुए मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार किसी भी तरह के गैरकानूनी काम को नहीं बख्शेगी, दोषियों के खिलाफ कडी कार्यवाही की जाएगी।

पासवान ने कहा है कि आधार से जुड़े ‘प्वाइंट आफ सेल’ (पीओएस) उपकरणों को अधिकांश राशन की दुकानों पर स्थापित किया जा चुका है। जिन दुकानों पर नहीं है उनपर जल्द लगाने के निर्देश दिए गए है। पासवान ने कहा कि चीनी पीओएस से राशन की दुकानों में सीधे बिक्री केंद्र की निगरानी की जा रही है।
पासवान ने कहा कि कई राज्यों से शिकायतें मिल रही है कि चीनी के बोरों में गुणवत्ता मानकों से कम की चीनी भरने के अलावा पात्र लाभार्थियों को कम चीनी दी जा रही है इसके अलावा चीनी की कालाजारी की भी शिकायते मिल रही है। इन सबसे निपटने के लिए जल्द ही एक बैठक रखी जाएगी।

मंत्री ने कहा कि बारिश में चीनी खराब होने के अलावा चूहों द्वारा बोरे में लीकेज करने जैसी शिकायतों के समाधन के लिए चीनी आपूर्ति करने वाले अधिकारियों और एजेंसियों से साथ जल्द समन्वय समिति बनाकर इस पर सख्त निगरानी प्रणाली औऱ सावधानी बरतने का काम किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here