चीनी मिलों और गन्ना बकाया को लेकर उत्तर प्रदेश के गन्ना मंत्री का विपक्ष पर हमला

135

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने बकाया भुगतान और एसएपी के मुद्दे को लेकर योगी सरकार को घेरनेवाले विपक्षियों पर कड़ा हमला किया। उन्होंने आरोप लगाया की, विपक्षियों ने अपने सत्ता कार्यकाल के दौरान कौड़ियों के भाव कई चीनी मिलें बेची और अब किसानों के लिए नकली आंसू बहा रहें है। उन्होंने चीनी मिलें बेचीं और गन्ना किसानों को हजारों करोड़ बकाया चढ़ा दिया हैं। उन्होंने कहा सपा और बसपा ने किसानों के मसीहा चौधरी चरण सिंह की कर्मस्थली में स्थित रमाला चीनी मिल के आधुनिकीकरण की दशकों पुरानी मांग को अनसूना किया था। योगी सरकार ने 20 बंद पड़ी चीनी मिलों को फिर से शुरू कराया और साथ ही 25 सालों में पहली बार 243 नई खांडसारी इकाइयों की स्थापना के लाइसेंस दिए है।

राणा ने कहा की, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यकाल में गन्ना मूल्य का रिकॉर्ड भुगतान के साथ साथ रिकॉर्ड पेराई, रिकॉर्ड उत्पादन हुआ है। हमारी सरकार किसानों के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। कोरोना महामारी के दौरान भी प्रदेश की सभी मिलों का सफलता से संचालन, सैनिटाइजर का रिकार्ड उत्पादन विपक्षियों को नहीं दिखता। उन्होंने दावा किया की, योगी सरकार ने सपा और बसपा कार्यकाल की तुलना में गन्ना किसानों को अधिक भुगतान किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here