निवार का कहर: विल्लुपुरम में गन्ना समेत अन्य फसलें क्षतिग्रस्त

189

विल्लुपुरम, तमिलनाडु: प्रारंभिक अनुमानों से संकेत मिलता है कि, जिले में 9,000 हेक्टेयर से अधिक फसलें चक्रवात निवार के दौरान क्षतिग्रस्त हो चुकी हैं। विल्लुपुरम जिले में चक्रवात निवार के कारण हुई भारी बारिश से हुए नुकसान का विस्तृत आकलन किया जा रहा है। लगभग 4,000 हेक्टेयर में धान, 3,748 हेक्टेयर में दाल, 448 हेक्टेयर में मूंगफली, 67 हेक्टेयर गन्ना फसल तबाह हुई है। कुड्डालोर जिले में चक्रवात निवार के चलते हुई बारिश के कारण हुए नुकसान का आकलन किया जा रहा है, प्रारंभिक अनुमानों से पता चलता है कि 2,900 एकड़ से अधिक की खड़ी फसलें ख़राब हो चुकी हैं।

द हिन्दू डॉट कॉम में प्रकाशित खबर के मुताबिक, कलक्ट्रेट में हुई बैठक की अध्यक्षता करते हुए उद्योग मंत्री एम.सी. संपत ने कहा कि, लगभग 2,525 एकड़ धान और लगभग 185 हेक्टेयर बागवानी फसलें प्रभावित हुईं। 95 झोपड़ियाँ पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गईं, जबकि 642 झोपड़ियाँ आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गईं। इसके अलावा, 174 कांक्रीट घर पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए, जबकि पांच आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गए। उन्होंने कहा कि, जिले भर में स्थापित 28 स्थायी और 191 अस्थायी शिविरों में 52,000 से अधिक लोगों को रखा गया था। इस अवसर पर कलेक्टर चंद्रशेखर सखमुरी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here