पाकिस्तान: कैबिनेट की चीनी माफियाओं की नकेल कसने की तयारी…

174

इस्लामाबाद: कैबिनेट ने मंगलवार को मासिक खपत में अचानक वृद्धि के कारण चीनी आयात तुरंत करने का फैसला किया और गन्ना पेराई सत्र में देरी करने वाली चीनी मिलों पर 5 मिलियन रुपये का दैनिक जुर्माना लगाने पर अपनी सहमति दी। गन्ना पेराई सत्र में देरी से “चीनी माफिया” को रोकने के प्रयास में, प्रधान मंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में साप्ताहिक कैबिनेट की बैठक में सूचित किया गया था कि, पेराई सत्र अगले 20 दिनों में शुरू किया जाये।

लोकल मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कैबिनेट को चीनी की औसत मासिक खपत में अचानक वृद्धि के बारे में बताया गया था। बैठक में कमोडिटी की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए चीनी को तुरंत आयात करने का निर्णय लिया गया। 200,000 टन चीनी अगले कुछ दिनों में देश में पहुंच जाएगी। इस बीच, देश में मौजूदा चीनी भंडार, आयात की स्थिति और इसकी कीमत के बारे में विस्तृत जानकारी के बाद, मंत्रिमंडल को बताया गया कि, संघीय जांच एजेंसी (FIA) के महानिदेशक वाजिद जिया की चीनी की रिपोर्ट के बाद जांच की भौतिक सत्यापन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। प्रधान मंत्री इमरान खान ने संबंधित अधिकारियों को अगली कैबिनेट बैठक में गेहूं और चीनी पर विस्तृत रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया।कैबिनेट ने शुरुआत में, देश में कोरोनावायरस बढ़ते मामलों पर चिंता व्यक्त की, हालांकि, महामारी की दूसरी लहर के मद्देनजर बेहद सावधान रहने की जरूरत है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here