पाकिस्तान द्वारा चीन को 150,000 टन चीनी निर्यात…

812

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

इस्लामाबाद: पाकिस्तान ने अब तक चीन को 150,000 टन चीनी निर्यात की है, जबकि जून के अंत तक 1 अरब डॉलर के ‘शुल्क मुक्त प्रोत्साहन पैकेज’ के तहत 200,000 टन चावल का निर्यात पूरा किया जाएगा। प्रधानमंत्री इमरान खान के सलाहकार रजाक दाऊद ने वाणिज्य, कपड़ा और उद्योग पर सीनेट की स्थायी समिति को बताया कि, चीन ने पाकिस्तान को चावल, चीनी और 350,000 टन सूती धागे के निर्यात के लिए ‘शुल्क मुक्त पैकेज’ दिया है।

आपको बता दे, भारत लंबे समय से चीन से निर्यात कोटा की अपेक्षा में था, जो चीन ने पाकिस्तान को दे दिया था.

समिति के अध्यक्ष मुहम्मद अफरीदी ने कहा कि, यार्न की इतनी अधिक मात्रा के निर्यात से पाकिस्तान का स्थानीय कपड़ा उद्योग प्रभावित होगा, क्योंकि उत्पाद की कीमत स्थानीय बाजार में अधिक हो जाएगी।दाऊद ने कहा कि, पाकिस्तान ने बड़ी मात्रा में सूती धागे का उत्पादन किया है और इसलिए इसमें कोई कमी नहीं होगी। कपड़ा क्षेत्र से जुड़े उद्योग अब अच्छे परिणाम दे रहे हैं क्योंकि बंद कारखानों ने भी उत्पादन शुरू कर दिया है। उम्मीद है कि, आने वाले दिनों में कपड़ा क्षेत्र का निर्यात और बढ़ेगा।

पीएम के सलाहकार ने कहा कि, प्रधानमंत्री इमरान खान 28 अप्रैल को एक यात्रा के दौरान चीन के साथ मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) पर हस्ताक्षर करेंगे, जिसके तहत पाकिस्तान को शुल्क मुक्त बाजार में हिस्सेदारी मिलने वाली है, जो कि चीन से दक्षिणपूर्व एशियाई राष्ट्र एसोसिएशन के सदस्य देशों द्वारा पहले से ही प्राप्त शेयर के बराबर है। उन्होंने कहा, हालांकि एफटीए के दूसरे चरण को अंतिम रूप देने में काफी समय लगा, लेकिन मैं इस संबंध में चीनी सरकार के समर्थन की सराहना करना चाहता हूं।

सीनेटर नौमान वज़ीर ने कहा कि, पाकिस्तान सरकार को चीन से आश्वासन मिलना चाहिए कि, वह पाकिस्तान से आयात पर गैर-टैरिफ अवरोध नहीं लगाएगी।दाऊद ने कहा कि, ऐसे सभी मामलों पर पहले ही चीन के साथ चर्चा हो चुकी है और वह इस तरह का आश्वासन पाने के लिए चीनी अधिकारियों से आगे बात करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here