आंध्र प्रदेश : गन्ना किसानों के लंबित बकाया भुगतान को चुकाया गया

188

विजयवाड़ा : मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने पिछली सरकार द्वारा गन्ना किसानों के लंबित बकाए को चुकाने की मंजूरी दे दी। मुख्यमंत्री ने 42 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले पूर्वी गोदावरी जिले के कुरनूल के तंगदांचा और पूर्वी गोदावरी के तालकटोरा के श्रीकाकुलम के न्यारा में कृषि यांत्रिकरण प्रशिक्षण केंद्रों की आधारशिला रखी।

पूर्व मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी की जयंती के उपलक्ष्य में किसान दिवस के अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राज्य भर के किसानों के साथ बातचीत करते हुए, जगन मोहन रेड्डी ने दोहराया कि,वाईएस राजशेखर रेड्डी की तरह ही किसान हमेशा उनकी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता रहेंगे। वाईएस राजशेखर रेड्डी ने 2004 में मुख्यमंत्री बनते ही, जिस पहली फाइल पर उन्होंने हस्ताक्षर किए, वह किसानों के 1,200 करोड़ रुपये के बिजली बकाया माफ करने से संबंधित थी। वाईएसआर ने किसानों को 9 घंटे मुफ्त बिजली देने की भी घोषणा की थी, आज भी प्रत्येक किसान मुफ्त बिजली योजना के लिए प्रति वर्ष औसतन 50,000 रुपये का लाभ उठाता है।

उन्होंने कहा की, लंबित बकाया पिछली सरकार की उपेक्षा को स्पष्ट रूप से दर्शाते हैं और बकाए को मंजूरी देकर हमने अपनी जवाबदेही साबित की।

गन्ना किसानों के लंबित बकाया भुगतान को चुकाया गया यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here