एलएच चीनी मिल में प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड का पड़ा एक बार फिर छापा

541

पीलीभीत: प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड (पीसीबी) प्रदूषण को रोकने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रही है। इसी के चलते एलएच चीनी मिल में प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड ने तीन दिन के अंदर सिटी मजिस्ट्रेट के साथ दोबारा छापा मारा। इस छापेमारी में मिल का प्रदूषित पानी खेतों में जाता मिला। ‘पीसीबी’ ने बीसलपुर रोड पर स्थित मोदी आयल मिल की भी जांच की, वहां भी केमिकलयुक्त पानी बहता पाया गया। मिलों द्वारा निकलने वाले प्रदूषित पानी से खेती बर्बाद होने के कई मामले सामने आये है, जिसकी किसानों द्वारा पीसीबी को शिकायते भी मिली थी।

आपको बता दे, एलएच चीनी मिल में 20 नवंबर को ही सिटी मजिस्ट्रेट ऋतु पूनिया और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की टीम ने छापा मारा था। मिल का ईटीपी (एफ्लुएंट ट्रीटमेंट प्लांट) बंद पाए जाने के अलावा वायु प्रदूषण नियंत्रण व्यवस्था भी ठप पाई गई थी। प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड की टीम के साथ एलएच मिल गई थी। मिल से निकलने वाला गंदा पानी संडा नाले में बहता पाया गया।

ऋतु पूनिया, सिटी मजिस्ट्रेट ने कहा की प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड की टीम के साथ एलएच मिल गई थी। मिल से निकलने वाला गंदा पानी संडा नाले में बहता पाया गया। जिस पर उसे ईंट-सीमेंट लगाकर बंद करवा दिया गया। इस मामले में कार्रवाई प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड ही करेगा।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here