फिजी में चीनी की कीमतों में वृद्धि का विरोध

255

सुव : फिजी चीनी निगम (एफएससी) की मांग के अनुसार चीनी की कीमत में किसी भी तरह की बढ़ोतरी का फिजी लेबर पार्टी (एफएलपी) ने पुरजोर विरोध किया है। एफएलपी नेता महेंद्र चौधरी ने कहा कि, फिजी शुगर कारपोरेशन ने फिजियन प्रतिस्पर्धा और उपभोक्ता आयोग को लिखा कर स्थानीय स्तर पर बेची जाने वाली चीनी की कीमत में भारी बढ़ोतरी की मांग की है, जो कि मौजूदा कीमत से लगभग दोगुनी है और जबकि पार्टी इसका विरोध कर रही है।

यह खाद्य कीमतों को बढ़ाने का समय नहीं है। चीनी एक बुनियादी उपभोक्ता वस्तु है, और यह एक मूल्य नियंत्रण वस्तु भी है। चौधरी ने कहा, चीनी के दाम बढ़ने से एक बार फिर उन गरीबों की जेब पर असर पड़ेगा जो पहले से ही अपने परिवारों के लिए भोजन खरीदने में अत्यधिक कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं। इसके अलावा, यह कई अन्य उत्पादों की लागत में काफी वृद्धि करेगा जो चीनी का उपयोग करते हैं जैसे कि बिस्कुट, मिठाई, शीतल पेय, चटनी, अचार,और डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ। उन्होंने दावा किया की, लोग इस तरह की वृद्धि को सहने की स्थिति में नहीं हैं।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here