गुजरात: बकाया गन्ना भुगतान को लेकर आंदोलन तेज

208

वड़ोदरा: वड़ोदरा जिला सहकारी गन्ना उत्पादक संघ लिमिटेड (VDCSGUL) से संबधित गन्ना किसानों ने बकाया भुगतान की मांग को लेकर आंदोलन तेज केर दिया है, और इस आंदोलन में शामिल एक प्रदर्शनकारी ने गुरुवार को करजन के पास गन्धारा चीनी मिल के बाहर आत्मदाह का प्रयास किया। किसान पिछले काफी समय से आंदोलन कर रहे हैं और अपना बकाया चुकाने की मांग कर रहे हैं। कांबोला गाँव के आशीष भट्ट, जो सक्रिय रूप से आंदोलन में शामिल हैं, उसने आत्मदाह की कोशिश की है।

कर्ज में डूबे वड़ोदरा जिला सहकारी गन्ना उत्पादक संघ लिमिटेड ने अपने परिचालन को बंद कर दिया है, और इसका प्रबंधन नर्मदा चीनी सहकारी समूह को सौंप दिया गया है। हालांकि पिछले पेराई सत्र के किसानों का बकाया नहीं चुकाया गया है। खबरों के मुताबिक, गन्ना किसानों ने जिला प्रशासन को इस संबंध में बार-बार आवेदन दिया है, लेकिन इस मुद्दे का निपटारा होना अभी भी बाकी है। आंदोलन की अगुवाई कर रहे, योगेश पटेल ने कहा कि, 102.5 करोड़ रुपये बकाया था। उन्होंने कहा कि, इस राशि में से किसानों का 22.8 करोड़ रुपये बकाया है। हमने किसानों का कुछ विवरण प्राप्त किया है। अब तक, हमने लगभग 1,800 किसानों की एक सूची तैयार की है, जिन्हें उनके बकाये का भुगतान नहीं किया गया है। पटेल ने बताया कि, किसानों ने पिछले दिनों ज्ञापन दिया था और विरोध भी किया था। जब इनमें से किसी ने भी कोई परिणाम नहीं दिया, तो किसानों में से एक ने आत्मदाह का चरम कदम उठाया।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here