बकाया वेतन को लेकर छत्रपति चीनी मिल कर्मियों का विरोध प्रदर्शन

155

पुणे : चीनी मंडी

पिछले तीन महीनों से श्री छत्रपति सहकारी मिल प्रबंधन अपने श्रमिकों का वेतन भुगतान नही किया है, जिसके चलते सेंकडो मिल कर्मियों ने मिल के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। कर्मियों के विरोध प्रदर्शन के चलते मिल प्रबंधन की तरफ से सभी निदेश मंडल ने 20 फरवरी तक एक माह का वेतन और महिने के अंत तक और एक माह का वेतन देने की घोषणा करने के बाद मिल कर्मियों ने अपना आंदोलन स्थगित कर दिया।

मिल के पूर्व अध्यक्ष पृथ्वीराज जाचक ने कहा की, श्री छत्रपति मिल शुरू होनें के बाद पिछले 65 सालों में ऐसा पहली बार हुआ है, जब कर्मियों के वेतन भुगतान में देरी हुई है, इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है की, मिल की आर्थिक स्थिती क्या है और मिल किस दिशा की तरफ जा रही है। मिल के श्रमिकों को तीन महिने से वेतन नही मिला है। संक्राती त्यौहार के दौरान अग्रिम पैसे नही दिए गए है, ना की पिछले तीन सालों से दिवाली बोनस दिया गया है। दस महिने से श्रमिकों के फंड औए एलआयसी की किश्तें भी नही चुकाई है। जिससे श्रमिकों में मिल प्रबंधन और निदेशक मंडल के खिलाफ काफी गुस्सा है। इस अवसर पर बालासाहेब कोलेकर, सतीश काटे, विठ्ठलराव निम्बालकर, आबासाहेब निम्बालकर, अशोक काले और श्रमिक बड़ी संख्या में मौजूद थे।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here