पंजाब : ‘आटा – दाल’ योजना के लाभार्थियों को अब चीनी भी मिलेगी

71

चंडीगढ़ : पंजाब में कांग्रेस सरकार अगले विधानसभा चुनावों के एक साल पहले अपनी ‘आटा – दाल’ योजना के तहत चीनी और चाय की पत्ती उपलब्ध कराने के अपने चार साल पुराने चुनाव पूर्व वादे को पूरा करने की तैयारी कर रही है।राज्य सरकार योजना के लाभार्थियों को आटा और दाल उपलब्ध करा रही है। कांग्रेस पार्टी ने लाभार्थियों से वादा किया था कि, वह उन्हें चाय की पत्ती और चीनी भी प्रदान करेगी।सरकार अब तक अपना चुनावी वादा पूरा नहीं कर पाई थी, अब चुनाव के लिए सिर्फ एक साल बाकी है, वादा पूरा हो रहा है।

पंजाब के खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशु ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि, विभाग ने योजना के लाभ का विस्तार करने के लिए राज्य के वित्त विभाग से 760 करोड़ रुपये की मांग की थी।वादा पूरा करने में देरी पर टिप्पणी करते हुए, उन्होंने कहा कि सरकार ने पिछले साल के बजट में इस योजना के लिए धनराशि निर्धारित की थी, लेकिन कोरोना महामारी के कारण, वे योजना का विस्तार करने में सक्षम नहीं थे। उन्होंने कहा कि वे 21 जनवरी से इसका लाभ प्रदान करेंगे। चालू वित्त वर्ष की अंतिम तीन तिमाही के लिए उन्होंने 160 करोड़ रुपये की मांग की है।उन्होंने कहा कि सरकार ने तालाबंदी के दौरान जरूरतमंदों और प्रवासी मजदूरों को 10 किलो अटा, 2 किलो चीनी और 2 किलो दाल ले जाने वाले 15 लाख सूखे राशन पैकेट वितरित किए थे। राज्य ने मुख्यमंत्री राहत कोष से 78.2 करोड़ रुपये खर्च किए।इसके अतिरिक्त, जिला लुधियाना को प्रवासियों / गैर-एनएफएसए लाभार्थियों को वितरण के लिए 2 लाख सूखे राशन पैकेट भी आवंटित किए गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here