‘आवश्यक वस्तुओं’ की आपूर्ति के लिए रेलवे चलाएगी 109 पार्सल ट्रेन

113

नई दिल्ली : चीनी मंडी

लॉकडाउन के बीच देश भर में आपूर्ति श्रृंखला को बढ़ावा देने के लिए, रेलवे ने आवश्यक वस्तुओं और अन्य वस्तुओं के राष्ट्रव्यापी परिवहन के लिए 109 पार्सल ट्रेनों की शुरुआत की है। इससे कोरोनो वायरस प्रकोप के दौरान आम नागरिकों, उद्योग और कृषि के लिए आवश्यक महत्वपूर्ण वस्तुओं की उपलब्धता को बढ़ावा मिलेगा। रेलवे ने एक बयान में कहा की, लॉकडाउन की शुरुआत के बाद से, विशेष पार्सल ट्रेनों के लिए लगभग 58 मार्गों (109 ट्रेनों) को सुनिश्चित किया गया है। 5 अप्रैल तक, 27 मार्गों को सुनिश्चित किया गया था, जिनमें से 17 मार्ग नियमित रूप से निर्धारित सेवा में है, जबकि शेष केवल सिंगल यात्राओं के लिए थीं। इसके बाद, 40 नए मार्गों की पहचान की गई है और सुनिश्चित किया गया है। इसके साथ, भारत के लगभग सभी महत्वपूर्ण शहर तेज गति से ‘आवश्यक वस्तुओं’ के परिवहन के लिए जुड़ जाएंगे।

रेलवे ने कहा कि, स्थानीय उद्योग, ई-कॉमर्स कंपनियां, इच्छुक समूह, व्यक्ति और कोई अन्य संभावित लोडर इन ट्रेनों पर पार्सल बुक कर सकते हैं। ग्राहकों की मांग के अनुसार समय-समय पर पार्सल गाड़ियों की योजना बनाई जाती है। दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, हैदराबाद और बेंगलुरु जैसे देश के महत्वपूर्ण शहरों को जोड़ते हैं। इसके अलावा, देश के पूर्वोत्तर क्षेत्र में आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए गुवाहाटी के लिए भी कनेक्टिविटी सुनिश्चित की गई है। इन ट्रेनों के माध्यम से जुड़े अन्य महत्वपूर्ण शहरों में भोपाल, इलाहाबाद, देहरादून, वाराणसी, अहमदाबाद, वडोदरा, रांची, गोरखपुर, तिरुवनंतपुरम, सलेम, वारंगल, विजयवाड़ा, विशाखापत्तनम, राउरकेला, बिलासपुर, भुसावल, टाटानगर, जयपुर, झांसी, आगरा, नासिक, नागपुर, अकोला, जलगाँव, सूरत, पुणे, रायपुर, पटना, आसनसोल, कानपुर, जयपुर, बीकानेर, अजमेर, ग्वालियर, मथुरा, नेल्लोर, जबलपुर शामिल है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here