रोमानिया द्वारा चीनी मिल को बंद होने से बचाने की पूरी कोशिश जारी

182

बुखारेस्ट : रोमानिया के कृषि मंत्री एड्रियन चेस्नोइयू ने फ्रांसीसी चीनी और एथेनॉल समूह Tereos के साथ बातचीत करने की योजना बनाई है, ताकि चीनी मिल को बंद होने से बचाया जा सके। दुनिया के दूसरे सबसे बड़े चीनी उत्पादक Tereos ने कहा कि, इस साल की शुरुआत में वह रोमानिया में अपने लुडस मिल में यूनियनों के साथ मिल को बंद करने के बारे में परामर्श कर रहे है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस मिल में 2020 में लगभग 180 कर्मचारी थे और यह मिल रोमानिया के दो अंतिम शेष पेराई संयंत्रों में से एक है। यह मिल देश में गन्ने के रकबे में लगातार हो रही गिरावट के बीच घाटे में चल रही है। कृषि मंत्री एड्रियन चेस्नोइयू ने संवाददाताओं से कहा, एक पूरी तरह से काम कर रही फैक्ट्री को बंद करना और कबाड़ में बेचा जाना शर्म की बात होगी। उन्होंने कहा, हम घरेलू उत्पादन को प्रोत्साहित करना चाहते हैं और किसी एक निर्माता पर निर्भर नहीं रहना चाहते हैं, इसलिए हम मिल को खुला रखने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे। Tereos के प्रवक्ता ने कहा, कुछ हफ्ते पहले मंत्री ने हमसे संपर्क किया और कहा कि मिल का राष्ट्रीयकरण किया जा सकता है। कृषि मंत्रालय ने चुकंदर किसान संघ के साथ-साथ चीनी प्रसंस्करणकर्ताओं से भी परामर्श किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here