सरस्वती चीनी मिल में पेराई शुरू; 25,000 गन्ना किसानों को मिली राहत

463

यमुनानगर: हरियाणा के सरस्वती चीनी मिल में गन्ने की पेराई का काम शुरु हो गया है। मिल ने इस साल 160 लाख क्विंटल गन्ने की पेराई का लक्ष्य रखा है। मिल के मुख्य परिचालन अधिकारी एसके सचदेवा ने इस अवसर पर कहा कि यमुनानगर और पड़ोसी जिलों के लगभग 25,000 किसान सरस्वती चीनी मिल में अपने गन्ने की आपूर्ति करते हैं।

उन्होंने कहा कि मिल किसानों की जीवन रेखा की तरह हैं। चूंकि यमुनानगर गन्ने का प्रमुख केंद्र है। इसलिए उनकी आजीविका गन्ने पर ही निर्भर करती है। देवधर गाँव के गन्ना उत्पादक प्रेम चंद शर्मा ने कहा कि किसानों के लिए यह एक राहत की बात है क्योंकि अब वे अपनी गन्ने की फसल कटाने के बाद गेहूं बो सकेंगे।

मिल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष (गन्ना) डीपी सिंह ने कहा कि इसने पिछले साल 166 लाख क्विंटल गन्ने की पेराई हुई। इस साल मिल ने किसानों से गन्ना खरीदने के लिए 42 गन्ना खरीद केंद्र खोले हैं। ताकि वे सीधे मिल को गन्ने की आपूर्ति कर सकें।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here