शामली: गन्ने की कमी के चलते चीनी मिलों के पेराई में बाधा

339

शामली: गन्ने की कमी के चलते उत्तर प्रदेश के कई ज़िलों के मिलों के पेराई सीजन में बाधा पैदा हुई है। गन्ने के आभाव में मिलों को अपना पेराई सत्र बीच में ही खत्म करना पड़ रहा है। शामली जिले में भी चीनी मिलों के सामने कई दिनों से गन्ने की कमी का संकट पैदा हो गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जिसके चलते ऊन और थानाभवन चीनी मिल अगले दो दिनों में अपना पेराई सत्र समाप्त करके बंद हो जाएगी। शामली चीनी मिल भी 7-8 मई को अपना पेराई समाप्त कर देगी।

अमर उजाला डॉट कॉम में प्रकाशित खबर के मुताबिक, ऊन चीनी मिल के गन्ना महाप्रबंधक अनिल अहलावत ने कहा कि, चीनी मिल की पेराई क्षमता 70 हजार क्विंटल है, लेकिन चीनी मिल को 35 हजार क्विंटल गन्ने की आपूर्ति हो रही है। गन्ना आपूर्ति में कमी के चलते मिल 30 अप्रैल को अपना पेराई सत्र समाप्त करके बंद हो जाएगी। थानाभवन चीनी मिल के यूनिट हेड वीरपाल सिंह ने बताया कि, चीनी मिल की गन्ना पेराई की क्षमता 90 हजार क्विंटल प्रतिदिन की है। मंगलवार को 55 हजार क्विंटल गन्ने की आपूर्ति हुई थी। बुधवार को मात्र 40 हजार क्विंटल गन्ना सिमट गया है। थानाभवन चीनी मिल 30 अप्रैल को अपना पेराई सत्र समाप्त हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here