मोदी चीनी मिल के दो लोगों को जारी किया गया कारण बताओ नोटिस

555

गाजियाबाद: मोदी चीनी मिल के गन्ना केंद्र के खिलाफ़ स्थानीय किसानों की अनेक शिकायतों के बाद डीएम ने मिल की जांच की तथा इसमें कई खामियां पायी गईं। इस संबंध में मिल के केयरटेकर सहित दो लोगों को नोटिस जारी कर एक सप्ताह के अंदर जवाबतलब किया गया है।

नवभारत टाइम्स के मुताबिक, डीएम डॉ. अजय शंकर पांडेय ने बताया कि मोदी चीनी मिल का टिकारी गांव स्थित बी नंबर का गन्ना केंद्र बना हुआ है। इस बारे में क्षेत्र के किसानों सहित कई लोगों ने शिकायत की थी तथा केंद्र पर नियमों का पालन नहीं किये जाने का आरोप भी लगाया। इसके बाद जांच की कार्रवाई की गई जिसमें शिकायतों को सही पाया गया। इस मामले में डीएम ने एसडीएम मोदीनगर को जांच सौंपी थी, जिसमें बताया गया है कि निरीक्षण के दौरान केंद्र पर दैनिक गन्ना खरीद रजिस्ट्री में प्रविष्टि नहीं मिली, जो अशुद्धि गन्ना नियमावली 1954 का उल्लंघन है। इसके अलावा केंद्र पर पशुओं के लिए पीने का पानी, पर्ची समरी, टोल फ्री नंबर आदि भी नहीं मिले। यह गन्ना आयुक्त के दिशानिर्देशों का उल्लंघन है।

जांच रिपोर्ट को गंभीरता से लेते हुए गन्ना नियम 120 और 122 के तहत मोदी चीनी मिल के केयरटेकर (अध्यासी) वेदपाल मलिक और तौल लिपिक अरविंद को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। जवाब देने के लिए उन्हें एक सप्ताह का समय दिया गय़ा है। एक सप्ताह के अंदर संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here