चीनी नीलामी से सिंभावली मिल को भुगतान के लिए मिले 37 करोड़…

1154

 

सिर्फ पढ़ो मत अब सुनो भी! खबरों की भूलभुलैया अब हुई आसान, अब पढ़ना और न्यूज़ सुनना साथ साथ. यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

 
गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने गन्ना विभाग के अधिकारियों को किसानों का भुगतान कराने के कड़े निर्देश दिए हैं। इसी क्रम में गन्ना विभाग ने सख्ती कर गन्ना भुगतान कराया है।
 
गाजियाबाद : चीनी मंडी 
गाजियाबाद जिल्हा प्रशासन द्वारा पिछले दिनों सिंभावली चीनी मिली की जब्त हुई चीनी को नीलाम कर मिली 37.29 करोड़ की रकम से गन्ना विभाग किसानों का भुगतान करेगी। जिला गन्ना अधिकारी ओपी सिंह ने बताया कि सिंभावली चीनी मिल ने जिला सहकारी बैंक गाजियाबाद से 29 करोड़ का ऋण लिया था। ऋण न चुकाने पर मार्च 2018 में बैंक में आरसी जारी कर दी थी।
उस 33 करोड़ की आरसी के क्रम में तहसीलदार ने सिंभावली चीनी मिल के गोदाम में रखी एक लाख 29 हजार क्विंटल चीनी सील कर दी थी। 11 जनवरी में 1.29 लाख क्विंटल चीनी को 40 करोड़ 94 लाख रुपये में नीलाम किया गया। नीलामी की धनराशि मिलने के बाद तहसील प्रशासन ने 37 करोड़ 28 लाख 85 हजार रुपये गन्ना विभाग को दे दिए हैं। यह धनराशि किसानों को वितरित की जाएगी।डीसीओ ने बताया इस भुगतान के बाद सिंभावली मिल पर 2017.18 के पेराई सत्र का करीब 58 करोड़ रुपये बकाया रह जाएगा।
जल्द ही ब्रजनाथपुर मिल की चीनी होगी नीलाम… 
सिंभावली शुगर मिल की यूनिट बृजनाथपुर की चीनी को भी नीलाम किया जाएगा। तहसीलदार सुरेंद्र सिंह ने बताया कि पांच जनवरी को जिला प्रशासन ने इस मिल की चीनी को नीलामी के लिए जब्त करने की प्रक्रिया की थी। मिल ने इस नीलामी पर उच्च न्यायलय से स्टे ले लिया था, लेकिन न्यायालय ने 32 करोड़ की धनराशि सात फरवरी तक भुगतान करने के आदेश भी दिए थे, लेकिन शुगर मिल ने इन आदेशों का अनुपालन नहीं किया। जिसके बाद जिला प्रशासन ने शुक्रवार को दोबारा से रिकवरी की कार्रवाई करते हुए स्टॉक में उपलब्ध कुल 142605 क्विंटल चीनी की नीलामी 15 फरवरी को तहसील परिसर में करने की घोषणा की है।
डाउनलोड करे चीनीमंडी न्यूज ऐप: http://bit.ly/ChiniMandiApp
SOURCEChiniMandi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here