श्रीलंका में चीनी जमाखोरों के खिलाफ सरकार ने उठाए सख्त कदम

261

कोलंबो: श्रीलंका में चीनी जमाखोरों के खिलाफ सरकार ने सख्त कदम उठाए है, जिसके तहत देशभर के गोदामों मे छापेमारी शुरू कर दी गई है। जमारोखी में अब एक बडे कंपनी का नाम सामने आया है, खुद राष्ट्रपति कार्यालय ने कहा कि, पिरामिड विल्मर के गोदाम पर छापा मारा गया और 6,200 मीट्रिक टन चीनी जब्त की गई। आवश्यक सेवाओं के आयुक्त, मेजर जनरल एन.डी.एस.पी. निवुन्हेला ने बताया कि, कल किए गये छापामारी में गोदामों में मिली 29,900 मीट्रिक टन चीनी को जब्त कर लिया गया है।

इस बीच, सहकारी सेवा, विपणन विकास और उपभोक्ता संरक्षण राज्य मंत्री लसंथा अलगियावन्ना ने डेली मिरर से पुष्टि की कि बीओआई पंजीकृत कंपनी पर चीनी जमाखोरी का आरोप लगाया गया था। हालांकि, उन्होंने जोर देकर कहा कि अधिकारी किसी के साथ नरमी नहीं बरत रहे हैं और कोई भी कंपनी, भले ही बीओआई के साथ पंजीकृत हो, चीनी जमाखोरी करती हुई पाई जाती है, उनसे सख्ती से निपटा जाएगा। अलगियावन्ना ने कहा कि, किसी भी संस्था से जब्त की गई चीनी को सथोसा की दुकानों पर स्वीकृत मूल्य पर बेची जाएगी। उन्होंने कहा कि, देश में कृत्रिम कमी पैदा करने के खिलाफ किसी भी दुकान या गोदाम के अंदर छिपे चावल और चीनी का पता लगाने और जब्त करने के लिए छापेमारी जारी रहेगी।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here