राज्य सहकारी बैंक एथेनॉल उत्पादन के लिए मिलों को लोन देने को तैयार…

335

पुणे : चीनी मंडी

केंद्र सरकार ने मंगलवार को एथेनॉल उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए अपने फैसले की घोषणा की और अब राज्य सहकारी बैंक ने एथेनॉल उत्पादन के लिए मशीनों में जरूरी बदलाव करने के लिए मिलों को लोन देने का फैसला किया है। केंद्र सरकार की तरफ से एथेनॉल उत्पादन के लिए विशेष रूप से जोर दिया है और सरकार के फैसले के बाद एक बार फिर एथेनॉल की कीमत में वृद्धि हुई है।

केंद्र सरकार का 100% गन्ने के रस से बने एथेनॉल के लिए ज्यादा किंमत की अनुमति देने का बहुत महत्वपूर्ण निर्णय है। 2022 तक सरकार ने 10% एथेनॉल मिश्रण का लक्ष्य रखा है। एथेनॉल उत्पादन के लिए उच्च मूल्य न केवल भारी चीनी अधिशेष की समस्या से निपटने में मदद करेगा, बल्कि बेहतर इथेनॉल सम्मिश्रण दर के कारण कच्चे तेल के आयात में कमी भी करेगा।

राज्य सहकारी बैंक द्वारा 31 जुलाई को चीनी सम्मेलन आयोजित किया गया था। इस सम्मेलन के लिए भूतपूर्व केन्द्रीय कृषि मंत्री शरद पवार, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, केन्द्रीय सडक परिवहन मंत्री नितिन गडकरी उपस्थित थे। इस सम्मेलन में राज्य बैंक द्वारा केंद्र सरकार से चीनी से एथेनॉल उत्पादन और एथेनॉल की कीमतों में बढ़ोतरी जैसे प्रस्ताव दिए गए थे। गडकरी ने इसके लिए पहल की थी और मंत्रियों के साथ बैठक बुलाई थी। तदनुसार, केंद्र सरकार ने एथेनॉल पर निर्णय लिया है। राज्य सहकारी बैंक ने एथेनॉल उत्पादन के लिए मशीनों में जरूरी बदलाव करने के लिए मिलों को लोन देने का फैसला किया है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here