मुनाफावसूली से शेयर बाजार रिकॉर्ड स्तर से फिसले, लगातार पांचवीं साप्ताहिक बढ़त दर्ज की

502

मुंबई, 24 अगस्त (भाषा) मुनाफावसूली का सिलसिला चलने और वैश्विक बाजारों में सतर्कता के रुख के बीच शेयर बाजार आज रिकॉर्ड स्तर से फिसल गए। लगातार तीन सत्रों में रिकॉर्ड बनाने के सिलसिले के बाद सेंसेक्स आज 85 अंक के नुकसान से 38,251.80 अंक पर आ गया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 25.65 अंक टूटकर रिकॉर्ड स्तर से नीचे आ गया।
हालांकि, सेंसेक्स और निफ्टी ने इस सप्ताह लगातार पांचवीं साप्ताहिक बढ़त दर्ज की।
अमेरिका और चीन के बीच व्यापार को लेकर तनाव बढ़ने से यहां धारणा प्रभावित हुई। दोनों देशों के बीच वार्ता बिना किसी उल्लेखनीय नतीजे के समाप्त हो गई है।
बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 38,366.79 अंक पर मजबूती से खुलने के बाद 38,429.50 अंक के उच्चस्तर तक गया। हालांकि, बाद में मुनाफावसूली का सिलसिला चलने से सेंसेक्स रिकॉर्ड स्तर से फिसला और इसने 38,172.77 अंक का निचला स्तर भी छुआ। अंत में सेंसेक्स 84.96 अंक या 0.22 प्रतिशत के नुकसान से 38,251.80 अंक पर बंद हुआ।
इससे पिछले चार सत्रों में सेंसेक्स 673.20 अंक चढ़ा था। कल के कारोबार में सेंसेक्स ने 38,336.76 अंक का नया रिकॉर्ड बनाया था।
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी रिकॉर्ड स्तर से फिसल गया। हालांकि, यह 11,550 अंक के महत्वपूर्ण स्तर से ऊपर बंद हुआ। निफ्टी 25.65 अंक या 0.22 प्रतिशत के नुकसान से 11,557.10 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 11,604.60 अंक से 11,532 अंक के दायरे में रहा।
कल निफ्टी ने 11,582.75 अंक का रिकॉर्ड बनाया था।
सेंसेक्स और निफ्टी ने लगातार पांचवीं साप्ताहिक बढ़त दर्ज की। साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 303.92 अंक या 0.80 प्रतिशत तथा निफ्टी 86.35 अंक या 0.75 प्रतिशत चढ़े हैं।
इस बीच, शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार घरेलू संस्थागत निवेशकों ने कल शुद्ध रूप से 142 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। विदेशी संस्थागत निवेशकों ने 433.21 करोड़ रुपये की लिवाली की।
जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘अमेरिका और चीन के बीच व्यापार वार्ता से कोई नतीजा नहीं निकलने से तनाव बढ़ा है। इससे यहां बाजार में मुनाफावसूली का सिलसिला चला।’’
नायर ने कहा कि रुपये में कमजोरी रही जबकि कच्चे तेल के दाम बढ़ने शुरू हो गए हैं, इससे धारणा प्रभावित हुई। अब निवेशकों को फेडरल रिजर्व प्रमुख के बयान का इंतजार है।
सेंसेक्स की कंपनियों में यस बैंक का शेयर सबसे अधिक 3.52 प्रतिशत टूटा। हीरो मोटोकॉर्प में 2.08 प्रतिशत का नुकसान रहा। अन्य कंपनियों में आईसीआईसीआई बैंक, अडाणी पोर्ट्स, सनफार्मा, इन्फोसिस, इंडसइंड बैंक, मारुति सुजुकी, एलएंडटी, टाटा मोटर्स, एसबीआई, एचडीएफसी बैंक, बजाज आटो, एनटीपीसी और एशियन पेंट्स में 2.02 प्रतिशत की गिरावट आई।
इस रुख के उलट वेदांता लि., ओएनजीसी, एक्सिस बैंक, विप्रो, महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा स्टील, रिलायंस इंडस्ट्रीज, हिंदुस्तान यूनिलीवर, कोल इंडिया, भारती एयरटेल, एचडीएफसी लि., कोटक बैंक और टीसीएस के शेयर लाभ में बंद हुए।
स्मॉलकैप में 0.34 प्रतिशत, मिडकैप में 0.26 प्रतिशत की गिरावट आई।
एशियाई बाजारों में हांगकांग का हैंगसेंग 0.43 प्रतिशत नीचे आया। जापान का निक्की 0.85 प्रतिशत चढ़ गया। शंघाई कम्पोजिट भी 0.18 प्रतिशत के लाभ में रहा।
शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार ऊपर चल रहे थे।

SOURCEChiniMandi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here