सात दिन में पहली बार गिरकर बंद हुए शेयर बाजार, बैंकों, वाहन कंपनियों के शेयरों में गिरावट

मुंबई, तीन दिसंबर (भाषा) लगातार छह सत्र के कारोबार में बढ़त दर्ज करने के बाद मंगलवार को शेयर बाजार गिरकर बंद हुए। इसकी अहम वजह रुपये में गिरावट, कच्चे तेल की बढ़ती कीमतें और कमजोर वैश्विक संकेतों के चलते निवेशकों का सावधानी भरा रुख रहा है। इसके अलावा भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक के परिणाम और अमेरिका-चीन के बीच व्यापार तनाव को लेकर छायी अनिश्चिता के चलते भी बाजार की धारणा प्रभावित हुई। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 106.69 अंक यानी 0.29 प्रतिशत गिरकर 36,134.31 अंक पर बंद हुआ। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 14.25 अंक यानी 0.13 प्रतिशत घटकर 10,869.50 अंक पर बंद हुआ।
सेंसेक्स में शामिल शेयरों में सबसे बुरा प्रदर्शन सन फार्मा के शेयर का रहा। मंगलवार को दिन में कारोबार के समय डॉलर के मुकाबले रुपया 19 पैसे पस्त रहकर 70.65 पर पहुंच गया। अंतरराष्ट्रीय बाजार में मानक ब्रेंट कच्चे तेल का भाव 2.40 प्रतिशत बढ़कर 63.17 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। सेंसेक्स और निफ्टी में बैंकिंग, एफएमसीजी और आटो कंपनियों के शेयरों में सबसे ज्यादा गिरावट रही। सन फार्मा, महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा, एचडीएफसी, स्टेट बैंक, एनटीपीसी, इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी बैंक, हिन्दुस्तान युनिलीवर, यस बैंक, एशियन पेंट्स और एक्सिस बैंक के शेयरों में तीन प्रतिशत तक गिरावट रही।
दूसरी तरफ ओएनजीसी, इन्फोसिस, विप्रो, वेदांता, टीसीएस, कोल इंडिया, बजाज आटो, पावर ग्रिड, भारती एयरटेल और टाटा स्टील मुनाफा दर्ज करने वाले अग्रणी शेयर रहे। इनमें 2.52 प्रतिशत तक बढ़त दर्ज की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here