कोरोना संकट के बिच सफलतापूर्वक कालाखेड़ा चीनी मिल ने खत्म किया पेराई सत्र

247

अमरोहा : कोरोना वायरस महामारी संकट के बावजूद कालाखेड़ा की किसान सहकारी चीनी मिल ने पेराई जारी रखकर किसानों के हित को सबसे आगे रखा था।मिल के 2019- 2020 पेराई सत्र का गुरुवार को यशस्वी समापन हो गया।

लाइव हिंदुस्तान डॉट कॉम के मुताबिक, मिल द्वारा 187 दिन के पेराई सत्र में कुल 41.67 लाख कुंतल गन्ना पेराई की गई है। चीनी की रिकवरी 11.02 प्रतिशत रही। और मिल द्वारा 4.57 लाख कुंतल चीनी उत्पादन की गई। मिल के क्षेत्र में गन्ना खत्म होने पर मिल प्रबंधन द्वारा पेराई सत्र के समापन की घोषणा की गई।

मिल के प्रधान प्रबंधक एसके सराफ ने बताया कि, हजारों गन्ना किसान, कर्मचारी व अधिकारियों के सहयोग से मिल ने पेराई व गन्ना परता में रिकार्ड कायम किया है। किसानों को गन्ना आपूर्ति में किसी तरह की परेशानी नहीं हुई। सेंटर व गेट की पर्चियां समान रूप से जारी की गईं। तोल को लेकर भी किसी तरह का आरोप-प्रत्यारोप नहीं लगा। मिल ने हमेशा से ही किसानों के हितों को प्राथमिकता दी है।

मिल द्वारा कोरोना संकट के बिच सोशल डिस्टेंसिंग, सैनीटाईजेसन जैसे महत्वपूर्ण नियमों का भी ध्या रखा गया।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here