चीनी मिल मालिकों पर सख्त कार्यवाही की जाएगी : मुख्यमंत्री

1034

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

लखनऊ (उप्र), 13 मई: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने छटे चरण के मतदान के बाद देश में भाजपा की सरकार बनने का दावा करते हुए कहा कि इन चनावों मे उत्तर प्रदेश में गन्ना बैल्ट की 30 सीटों पर भाजपा का परचम लहराएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि हर बार जब भी गन्ना पैराई सत्र शुरु होता था नेताओं और मिल मालिकों की संठगांठ से किसानों का पैसा बकाया अधर में लटक जाता था। हमारी सरकार आते ही ये गोरखधंधा हमने बंद करवा दिया और मालिकों को समय पर किसानों का बकाया देने के लिए पाबंद करवा दिया था, नतीजा आपके सामने है। किसान ख़ुश है। अप्रेल तक सभी मिलों नें किसानों का एक एक पाई पैसा दे दिया है। योगी ने कहा कि यही वजह रही कि इस बार गन्ना बैल्ट के किसानों ने जाति धर्म और मजहब की दीवारें लांघकर विकास को वोट दिया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आचार संहिता खत्म होने के बाद सरकार प्रखंड स्तर पर सर्वे कराएगी और जिन मिल मालिकों ने सरकार के आदेश के बाद किसानों का गन्ना का बकाया देने में देरी की उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने पुरानी बंद पड़ी सरकारी चीनी मिलों को फिर से शुरु करने की बात कहते हुए कहा सरकार मिलों को वित्तीय मदद देगी इसके लिए जल्द बैठक होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि गन्ना किसान कृषि की रीढ है और देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करने के साथ चीनी निर्यात से विदेशी आय अर्जित करने का बडा माध्यम है। इसलिए सरकार ने तय किया है कि चीनी मिलों की हालात सुधारकर युवाओं के लिए रोजगार के विकल्प तैयार किए जाएँगे। चीनी मिलों के आर्थिक तंगी के चलते बंद होने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि जब तक खेत में ईख रहेगी तब तक प्रदेश में चीनी मिलें चलती रहेंगी।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here