गन्ना बिल के लिए ‘किसन वीर’ के सामने ठिय्या, महीना अंत तक किसानों का बकाया देने का मिल का आश्वासन

590

चीनी मंडी, सातारा: किसन वीर सातारा सहकारी चीनी मिल किसानों का बकाया गन्ना बिल तुरंत मिले, इस मांग के लिए स्वाभिमानी शेतकरी संघठन द्वारा आज मिल के सामने आंदोलन किया।

स्वाभिमानी शेतकरी संघठन और स्वाभिमानी पक्ष द्वारा किसन वीर मिल के सामने दोपहर बारे बजे ठिय्या आंदोलन किया। प्रथम मिल के प्रशासकीय इमारत के सामने वाले शिवाजी महाराज की मूर्ति को संघठन की तरफ से पुष्पहार चढ़ाकर मिल के मुख्य प्रवेशद्वार पर ठिय्या किया गया। इस समय प्रदर्शनकारी राजू शेळके, शंकर शिंदे, अर्जुन साळुंखे, रमेश पिसाळ आदि उपस्थित थे।

मिल ने किसान और सदस्यों के हित के लिए अनेक उपक्रम लिए। इस के साथ ही प्रतापगड मिल का निजीकरण को रोक लगा कर मिल सदस्यों का स्वामित्व रखा और खंडाळा तालुके के किसानों का आर्थिक उत्पन्न बढ़े, इसलिए खंडाळा मिल तयार की गई। हमने समय-समय पर इसकी प्रशंसा की है।

लेकिन, जिस तरह से हमने अब तक मिल का समर्थन किया है। इसी के साथ हमे अपने श्रम का मूल्य मांग ने का अधिकार भी है, ऐसा वक्तव्य सवाभिमानी शेतकरी संगठन के जिल्हाध्यक्ष राजू शेळके ने इस समय किया।

दौरान, इन सभी प्रदर्शनकारियों से मिल के उपाध्यक्ष गजानन बाबर,संचालक प्रवीण जगताप, सी. व्ही. काळे, मधुकर शिंदे, नंदकुमार निकम, सयाजी पिसाळ आदिं से बातचीत कर ने के बाद ३१ अगस्त तक किसानों का बकाया देने का तय किया है। लिखित आश्वासन भी प्रदर्शनकारियों को दिया है। इसके बाद, एक तारीख तक आंदोलन वापस लेने की घोषणा की गई।

 

SOURCEChiniMandi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here