दुनिया में चीनी उत्पादन और बाजार अस्थिर रहने की आशंका

466

देश में रेकोर्ड उत्पादन और निचले स्तर पर रहे चीनी के दाम से पूरा चीनी उद्योग संकट से घिरा हुआ है. अंतरराष्ट्रिय स्तर पर चीनी के दाम कम होने से चीनी उद्योग मंदी के दौर से गुजर रहा है. उसी समय दुनियामें सबसे ज्यादा चीनी का उत्पादन करनेवालेब्राज़ील ने ४.१५ मिलियनटन चीनी का उत्पादन करते हुये ४.८१ बिलियन लीटर इथेनोल का उत्पादन किया. १ अप्रैल से १५ अप्रैल २०१८ तक १०२.५२ मिलियन टन गन्ने का क्रशिंग कीया गया. इस मौसमें औसतन रिकव्हरी १२८.२६किलो/मेट्रिक रहा. इसमौसम में कुल २४३ चीनी मिलें कार्यरत थे. शुष्कमौसम के वजह से गन्ने कि पैदावरइससाल कम होने की आशंका एजन्सियोने जताया है. एकसर्व्हे के मुताबिक़ इस मौसम में चीनी का उत्पादन औसतन २.८५% कम पैदावर होने कि संभावना जताई है.

दुनियाकेसबसे बड़े चीनी उत्पादक देशों में गिने जानेवाले अमेरिका में चीनी का उत्पादन औसत से कम होने जारही है. इस साल ८.१५ मिलियन टन चीनी का उत्पादन होने का अनुमान है, जो गत वर्ष की तुलना में ३% कम है. इस का प्रमुख कारण बीट से होनेवाले चीनीके उत्पादन में ३.५% की कमी है. इस साल कुल १२.९३६ मिलियन टन चीनी की आपूर्ति होने का अनुमान है, जो गत साल की तुलना में २%कम है. फिर भी चीनी का आयात २% कम होने जा रहा है.

दुनिया के प्रमुख चीनी उत्पादक देश में गिने जानेवाले फिलिपाईन्स में गत वर्ष की तुलना में कच्चे चीनी केउत्पादन में १०.७५% की भारी गिरावट होने जा रही है. इस साल मई के पहले हफ्ते तक १.९३ मिलियन टन कच्चे चीनी का उत्पादन होने का अनुमान है. बल्कि रिफ़ाइन्ड चीनी का उत्पादन गत वर्ष की तुलना में ३.२१% अधिक होकर ७.५६ लाख टन होने जा रहा है. वहीगत वर्ष की तुलना में घरेलु मांग २३.५३% से बढ़कर ७.५६ लाख टन होने का अनुमान है. घरेलु बाजार में बढ़तेचीनीकेदाम नियंत्रिंत करने केलिए फिलिपाईन्स के चीनी नियामक आयोगने कच्चे चीनी का रूपांतरण रिफाइंड चीनी में करने का आदेश जारी किया है. अंतराष्ट्रियस्तर पर जहाँ चीनी उद्योगअस्थिरता के दौर से गुजर रहा है, उसी वक्त पाकिस्तान के चीनी मिलोंको के सामने कहीं ख़ुशी तो कहीं गम का आलमरहाहै. एकओर नायजेरिया जैसे आफ्रीकी देश को ५००० टन चीनी निर्यात करने का मौकापाकिस्तान के चीनी मीलों को मिला है, तो दूसरी ओर गन्ने की बुआई में ५२% की भारी गिरावट होने जारही है. तभी घरेलु बाजार में चीनी कीमांग ५.२% बढ़नेकी संभावना है. युक्रेन में चीनी बीट कि बुआई में १.४५% की बढ़ोत्तरी दर्ज कि गयी है. युक्रेन मेंइस साल २,८० लाखहेक्टर चीनी बीट कीबुआई की गयी है.

मेक्सीको में इस मौसम में कुल ५.७११ मिलियन टन चीनी का उत्पादन हुआ है, जो गत वर्ष की तुलना में ३.१९% अधिक है. तो इंडोनेशिया के सरकारने मार्च से सितम्बर तक ६.३५ लाख टन चीनी आयात करने की अनुमति दी है. खाद्यान्नप्रक्रिया और बिव्हरेजस केलिए निर्धारित १ मिलियन टन चीनी घरेलु इस्तमाल हेतुसामान्य ग्राहक को बेचने का आदेश दिया है. इंडोनेशिया में चीनी की घरेलु मांग ६.८ मिलियन टन की है और उत्पादन प्रतिवर्ष सिर्फ २.१ मिलीयन रहा है. नैसर्गिक प्रकोप की वजह से क्यूबा में चीनी उत्पादन पर विपरीत असर हुआ है. भारी वर्षा के वजह से गन्ने के उत्पादन में भारी कमी आई है, और इसके वजह से क्यूबा में इस मौसम में केवल १.०५ मिलियन टन चीनी का उत्पादन होने की संभावना जताई जा रही है. अफ़्रीकी देश नायजेरिया में घरेलु खपत में बढ़ोत्तरी होगी और नायजेरिया १.८ मिलियन टन चीनी का आयात करेगा. वही घरेलु उत्पादन ८०,००० टन होने जा रही है. आयव्हरी कोस्ट मेंइस मौसम में१.९० लाख टन चीनी का उत्पादन होने की संभावना है. दुनिया भर में चीनी उद्योग में हो रहे इस उथल पुथल से यूरोपीय देश भी अछूते नहीं है. देर से की गयी बुआई और चीनी के गिरते दाम की वजह से यूरोप में भी चीनीकेउत्पादन में गिरावट दर्ज की गयी है.

SOURCEChiniMandi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here