गन्ना बकाया भुगतान के लिए 15 जुलाई को होगी चीनी की नीलामी

254

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

कोल्हापुर: चीनी मंडी

जिला सहकारी बैंक और अथर्व कंपनी ने ‘न्यूट्रिएंट्स’ की 43,922 क्विंटल चीनी बेचकर किसानों को एफआरपी भुगतान करने का फैसला किया है। नीलामी 15 जुलाई को जिला बैंक मुख्यालय में दोपहर 1 बजे होगी। जिला सहकारी बैंक ने कर्ज में डूबे दौलत सहकारी चीनी मिल को न्यूट्रियंट्स कंपनी को लीज पर चलाने के लिए दिया था। न्यूट्रियंट्स कंपनी ने 2016-17 में 1 लाख 40 हजार मेट्रिक टन गन्ने की पेराई की थी और उत्पादित चीनी को कंपनी ने जिला बैंक के पास गिरवी रखकर कर्ज लिया था। इस कर्ज से किसानों के एफआरपी का भुगतान शुरू किया था। इस बीच, कंपनी ने अगले सीझन के एफआरपी का भुगतान करने में असमर्थता जताई, इसलिए जिला बैंक और न्यूट्रिएंट्स के बीच हुआ लीज करार खत्म हुआ।

इसके बाद, दौलत मिल को अथर्व इंटरनेशनल कंपनी को चलाने के दिया गया। लीज करार करते समय बैंक और कंपनी मिलकर ‘एफआरपी’ राशि का भुगतान करने पर सहमत हुए थे। अथर्व कंपनी और बैंक ने संयुक्त रूप से क्षेत्रीय चीनी संयुक्त निदेशक, चंदगढ़ तहसीलदार और अंत में कलेक्टर की किसानों के नामों के सूची की मांग की थी। हालाँकि, यह सूची वर्तमान समय में उपलब्ध नहीं है; लेकिन किसानों की वित्तीय कठिनाई को समझते हुए, बैंक ने चीनी की नीलामी करके एफआरपी भुगतान करने का निर्णय लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here