तुर्की में चीनी खपत में कमी आने का अनुमान

195

इस्तांबुल: कई कारणों के वजह से तुर्की ने खाद्य पदार्थों और पेय पदार्थों में चीनी की मात्रा को धीरे-धीरे कम करने का फैसला किया है। पिछले हफ्ते, तुर्की के स्वास्थ्य मंत्रालय ने 2025 तक चॉकलेट, कैंडीज, वेफर्स, मीठे सॉस, नाश्ते के अनाज और गैर-मादक पेय में चीनी की मात्रा को कम से कम 10 प्रतिशत कम करने के लिए ‘चीनी कटौती गाइड’ के माध्यम से दिशानिर्देश जारी किये है। गाइड में पैकेज्ड उत्पादों में चीनी की मात्रा और रेस्तरां और कैफे में इसके उपयोग को कम करने की सिफारिशें शामिल हैं।

मंत्रालय और चीनी उद्योग के प्रतिनिधियों ने पिछले साल इस मुद्दे पर एक प्रोटोकॉल पर हस्ताक्षर किए थे क्योंकि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा किये गए सर्वे के अनुसार, यूरोपीय देशों में तुर्की में मोटापे की दर सबसे अधिक है।

चीनी की कमी से तुर्की में चीनी खपत में कमी आने का अनुमान है। वही आपको बता दे, चीनी उद्योग का कहना है की चीनी खपत अगर मात्रा में किया जाए तो इसका परिणाम स्वास्थ्य पर नहीं होता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here