Omicron के खतरे के बावजूद चीनी उद्योग को अच्छे निर्यात की उम्मीद…

138

नई दिल्ली: भारत का चीनी उद्योग कोविड -19 वायरस के नए-रिपोर्ट किए गए ओमाइक्रोन (Omicron) संस्करण के खतरे के बावजूद अच्छे निर्यात की उम्मीद कर रहा है। कई अफ्रीकी देश भारतीय चीनी के लिए महत्वपूर्ण बाजार हैं, उनमें से अधिकांश महाद्वीप के उत्तर में स्थित है, न कि दक्षिण में, जहां ओमाइक्रोन के मामलों का पता चला है।

दि इंडियन एक्सप्रेस में प्रकाशित खबर के मुताबिक, इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (इस्मा) के महानिदेशक अविनाश वर्मा ने बताया कि, कोविड -19 संक्रमण की पिछली दो लहरों से निर्यात को ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है। कोविड -19 वायरस के बावजूद पिछले दो सत्रों से भारत का चीनी निर्यात मजबूत बना हुआ है। सीजन 2019-20 में भारत ने 59.50 लाख टन का निर्यात किया था, जबकि सीजन 2020-21 के लिए, देश ने 71 लाख टन के करीब निर्यात किया गया है।

वर्मा ने कहा, इस सीजन में हमें करीब 60 लाख टन निर्यात की उम्मीद है। जिसमें सोमालिया और इथियोपिया जैसे अफ्रीकी देश भारतीय चीनी के लिए महत्वपूर्ण बाजार हैं। वर्मा ने कहा, अब तक, उद्योग ने कोरोना संक्रमण के नतीजों और बिक्री और निर्यात पर प्रभाव को कम करने के कुछ तरीके खोज लिए हैं। बेशक, लॉकडाउन के दौरान, श्रमिकों की कमी की समस्या थी और कंटेनरों को प्राप्त करना मुश्किल था, लेकिन कुल मिलाकर उद्योग ने अच्छा निर्यात किया है। वर्मा ने कहा कि, नए संस्करण के आने के बावजूद इस सीजन में भी निर्यात अच्छा रहने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here