इकबालपुर चीनी मिल के गोदाम में जस के तस पड़ी है चीनी की बोरियां

1241

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

हरिद्वार : इकबालपुर चीनी मिल गन्ना बकाया चुकाने में विफ़ल रही है, जिससे किसानों में काफी नाराजगी है। केंद्र द्वारा चीनी उद्योग को राहत देने के लिए जारी सॉफ्ट लोन योजना से मिल को अभी तक न तो सॉफ्ट लोन नही मिला है और दूसरी ओर मिल की चीनी बिक्री बिल्कुल ठप हो चुकी है, जिससे मिल को तरलता का सामना करना पड़ रहा है। जिसकी वजह से 16 हजार किसानों की परेशानी बढ़ गई है। किसानों ने मिल के खिलाफ बड़ा आंदोलन शुरू करने की चेतावनी दी है।

इकबालपुर चीनी मिल द्वारा किसानों को 31 दिसंबर 2018 तक खरीदे गए गन्ने का ही भुगतान मिला है। लेकिन जनवरी से पेराई किये गये गन्ने का भुगतान न होने से किसान परेशान है। इकबालपुर चीनी मिल के गोदाम में 2 लाख 17 हजार चीनी की बोरियां जस के तस पड़ी है। शासन ने चीनी को बेचकर किसानों का भुगतान करने के निर्देश दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here