चीनी मिल ने किया गन्ना भुगतान चुकाने का आश्वाशन; प्रस्तावित धरना स्थगित

646

रुड़की, उत्तराखंड: गन्ना बकाया भुगतान को लेकर उत्तम चीनी मिल ने किसानों को राहत मिलने के आसार दिखाई दे रहें है। मिल प्रबंधन ने किसानों को पांच अगस्त तक भुगतान का आश्वाशन दिया है। जिसके बाद भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों द्वारा प्रस्तावित धरना-प्रदर्शन टाल दिया है। बकाया भुगतान के कारण किसानों का कहना है की उनको घर चलाने में मुश्किल हो रही है, और उन्होंने मिल प्रबंधन को भुगतान करने की अपील की थी, लेकिन मिल भुगतान में विफ़ल रही थी।

भारतीय किसान यूनियन की ओर से एक सप्ताह पहले जिला प्रशासन तथा मिल प्रबंधन को पत्र भेजकर कहा था कि 20 जुलाई तक किसानों को गन्ना भुगतान नहीं मिलने पर 21 से उत्तम चीनी मिल गेट के बाहर अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन शुरू करेंगे। भाकियू जिलाध्यक्ष विजय कुमार शास्त्री ने कहा कि मंगलवार को धरना-प्रदर्शन प्रस्तावित था। मिल प्रबंधन की ओर से प्रतिनिधित्व करने पहुंचे केन मैनेजर अनिल सिंह ने किसानों को कहा कि वह एक सप्ताह में आठ दिन का भुगतान कर देंगे। अगले माह की 15 तारीख तक 12 दिन का भुगतान और कर देंगे लेकिन किसानों ने उनकी बात को नहीं मानी। बाद में प्रबंधन से बातचीत के बाद यह फैसला हुआ कि पांच अगस्त तक किसानों को 20 दिन का भुगतान दिया जाएगा

राज्य सरकार का कहना है की वे गन्ना बकाया भुगतान को लेकर काफी गंभीर है, जिसके कारण राज्य के कई मिलों द्वारा भुगतान भी किया जा रहा है। चीनी मिलों का कहना है की वे कोरोना संकट के कारण परेशान है। कोरोना के कारण चीनी बिक्री ठप है, जिसके चलते वे राजस्व की समस्या से जूझ रहे है और गन्ना बाकय भी चुकाने में विफल हुए है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here