धोखाधड़ी का मामला : चीनी मिल के मैनेजिंग डायरेक्टर जेल से रिहा

854

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

कुड्डलोर: आर्थिक अपराध शाखा, कुड्डलोर ने, थिरु अरूरन शुगर्स लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर राम थियागराजन को रिहा कर दिया, क्योंकि उन्होंने यह विश्वास दिलाया की वह गन्ना किसानों का बकाया भुगतान चूका देंगे.

थियागराजन को पिछले कुछ वर्षों से सैकड़ों गन्ना किसानों को करोड़ो रुपये के धोखाधड़ी देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था.

पुलिस ने बताया कि थियागराजन को रिहा किया गया क्योंकि वह लगभग 11,523 गन्ना किसानों का 88.51 करोड़ रुपये अदा कर सके.

पुलिस सूत्रों ने दावा किया कि उन्हें केवल गन्ना किसानों के हितों की रक्षा करने के लिए रिहा किया गया है, क्योंकि उन्हें जेल में रखने से इन किसानों को बकाया वसूलने में देरी होगी, जो की करोड़ो में है.

बुधवार की रात, थियागराजन को चेन्नई में उनके घर से उठाया गया था. किसानों द्वारा दर्ज की गई शिकायतों से संबंधित पूछताछ के लिए उन्हें कुड्डालोर ले जाया गया था.

किसानों ने आरोप लगाया था कि मिल ने गन्ने के बकाया का भुगतान करने के लिए प्रसंस्करण के बहाने उनसे दस्तावेजों पर अपने हस्ताक्षर प्राप्त किए. प्रबंधन ने उन्हें आश्वासन दिया कि वे बकाया भुगतान करने के लिए राष्ट्रीयकृत बैंक की मदद ले रहे हैं. किसानों को झटका तब लगा जब बैंक ने उन्हें पैसे वापस करने का नोटिस भेजा.

जाली दस्तावेजों का उपयोग करके, उन्होंने कई बैंकों से ऋण प्राप्त किया है, और यह बैंक अधिकारियों, किसानों के कथित सांठगांठ के बिना संभव नहीं है, यह आरोप भी किसानों ने लगाया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here