पेराई सत्र आते ही चीनी मिलों में हलचल

297

बिजनौर। पेराई सत्र आते ही देशभर की चीनी मिलों में हलचल शुरु हो गई है। किसी ने पेराई सत्र के दिन का ऐलान कर दिया तो कोई अभी भी अपने चीनी मिल में मरम्मत का काम करवा रहा है। गन्ना किसान भी पेराई को लेकर तैयार हैं। बिजनौर जिले की छह चीनी मिलों में नवंबर के पहले हफ्ते में पेराई शुरु होगी। जिले के बजाज मिल में सबसे पहले 31 अक्टूबर को पेराई शुरु की जाएगी। स्योहारा, धामपुर मिल एक नवंबर, बुंदकी और बहादरपुर मिल चार नवंबर को तथा सहकारी क्षेत्र की नजीबाबाद चीनी मिल पांच नवंबर से पेराई शुरू करेंगी। तीन चीनी मिलों में अभी भी मरम्मत और रंगरोगन का काम शुरु है। इन मिलों की पेराई तिथि अभी घोषित नहीं की गई है। ये मिलें है वेब समूह की बिजनौर और चांदपुर चीनी मिल और बरकातपुर चीनी मिल। इन मिलों को सरकार ने 10 नवंबर तक पेराई शुरु करने का आदेश दिया है।

गौरतलब है बिजनौर में गन्ने के उत्पादन में इस साल काफी इजाफा हुआ है। गन्ने के रकबे और पैदावार में बढ़ोतरी चीनी मिलों के लिए चुनौती बन गई है। मिलों को बढ़े उत्पादन को देखते हुए पेराई सत्र जल्द शुरु करने को गया है। इसलिए अधिकांश चीनी मिलों ने पहले ही पेराई का सत्र घोषित कर दिया है जबकि पहले 15 नवंबर से पेराई सत्र शुरु होता था।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here