उत्तर प्रदेश में बारिश के चलते चीनी मिलों का पेराई सत्र प्रभावित

227

मेरठ, उत्त्तर प्रदेश: उत्तर प्रदेश में बारिश ने किसानों की मुसीबत बढ़ा दी है। राज्य के जिले बारिश से बुरी तरह से प्रभावित हुए है। खेतों में जलभराव के कारण गन्ना फसल को क्षति पहुंची है। इतना ही नही चीनी मिलों का पेराई सत्र भी प्रभावित हो गया है। बारिश की वजह से चीनी मिलों का पेराई सत्र समय पर शुरू नहीं हो पाया है।

लाइव हिंदुस्तान में प्रकाशित खबर के मुताबिक, मेरठ जनपद में भी मोहिउद्दीनपुर चीनी मिल को 25 अक्टूबर से शुरू करने की तैयारी की जा रही थी, लेकिन बारिश ने सब खेल बिगाड़ दिया है। बारिश की वजह से कई चीनी मिलें अपने तौल केंद्रों को भी स्थापित नहीं कर सकी है। जिला गन्ना अधिकारी डॉ दुष्यंत कुमार ने बताया कि जनपद की चीनी मिलों ने जो प्रस्तावित तारीख तय की हैं उनके अनुसार निगम की मोहिउद्दीनपुर चीनी मिल 30 अक्टूबर से अब अपना पेराई सत्र शुरू करेगी। मवाना चीनी मिल 30 अक्टूबर, दौराला चीनी मिल 8 नवंबर, किनौनी 29 अक्टूबर, नंगलामल 29 अक्टूबर, सकौती 8 नवंबर को अपना पेराई सत्र शुरू करेंगी। मेरठ परिक्षेत्र की अन्य चीनी मिलों में मोदीनगर चीनी मिल 29 अक्टूबर, सिंभावली 27 अक्टूबर, वैजनाथपुर हापुड़ 27 अक्टूबर, मलकपुर बागपत 31 अक्टूबर, बागपत चीनी मिल 31 अक्टूबर, रमाला चीनी मिल 28 अक्टूबर, साबितगढ़ बुलंदशहर 8 नवंबर, अगौता चीनी मिल 7 नवंबर, बुलंदशहर 30 अक्टूबर, अनूपशहर चीनी मिल 30 अक्टूबर, साठा अलीगढ़ 30 नवंबर को अपना पेराई सत्र शुरू करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here