अमरावती और नागपुर में चीनी मिलों ने किया पेराई सत्र समाप्त

122

पुणे: महाराष्ट्र में पेराई सत्र अंतिम चरम में आ चुकी है। राज्य में सोलापुर, कोल्हापुर नांदेड़ के बाद अब अमरावती और नागपुर विभागों में भी चीनी मिलों ने पेराई सत्र बंद कर दिया है।

नागपर विभाग में कुल 3 मिलों ने पेराई सत्र में इस सीजन में हिस्सा लिया था और सभी अब बंद हो चुकी है। नागपर विभाग में 4.35 लाख टन गन्ना पेराई कर 3.90 लाख क्विंटल चीनी उत्पादन किया गया। यहाँ चीनी रिकवरी 8.97 प्रतिशत रही। वही अमरावती विभाग में 2 चीनी मिलों ने पेराई सत्र हिस्सा लिया था और सभी बंद हो चुकी है। यहाँ 5.82 लाख टन गन्ने की पेराई कर 5.20 लाख क्विंटल चीनी उत्पादन किया गया।

राज्य में 179 चीनी मिलें बंद हो चुकी है। चीनी आयुक्तालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, 05 मई, 2021 तक 190 चीनी मिलों ने पेराई सत्र में हिसा लिया। राज्य में 1009.61 लाख टन गन्ने का पेराई कर 1059.39 लाख क्विंटल चीनी उत्पादन किया गया है। राज्य में औसत चीनी रिकवरी 10.49 प्रतिशत है।

चीनी आयुक्तालय द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार सोलापुर विभाग में 43 चीनी मिलें बंद हो चुकी है। जबकि कोल्हापुर विभाग में 37 चीनी मिल बंद हो चुकी है। पुणे विभाग में 28 मिले बंद हुई है। अहमदनगर में 22 और औरंगाबाद में 18 चीनी मिलें बंद हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here