चीनी मिलों को मिली कड़ी चेतावनी

249

मुजफ्फरनगर: किसान गन्ना बकाया को लेकर नाराज़ है, जिसके बाद सरकार उन्हें शांत करने के लिए कई तरह के प्रयास कर रही है। 23 जुलाई को, जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ, मुजफ्फरनगर में गन्ना किसानों के भुगतान पर जानकारी हासिल की। किसानों के साथ बातचीत करते हुए, डीएम ने उन्हें आश्वाशन दिया की गन्ना बकाया ख़तम करने के लिए प्रसाशन काम कर रहा है।

जिला अधिकारियों ने चीनी मिलों को बकाया भुगतान के लिए 31 अगस्त की समय सीमा निर्धारित की है, साथ ही बकाया न चुकाने की स्थिति में कड़ी कार्रवाई की चेतावनी भी दी है।

केंद्र सरकार ने 2019-20 सीज़न के लिए गन्ने का उचित और पारिश्रमिक मूल्य (एफआरपी) को अपरिवर्तित रखने का फैसला लिया है। जिसके बाद गन्ना किसान असंतुष्ट नजर आ रहे है।

भारत में चीनी मिलों पर 15,222 करोड़ रुपये बकाया है। गन्ने का बकाया भुगतान न होने के कारण, विभिन्न राज्यों के किसानों ने अपना विरोध प्रदर्शन तेज कर दिया है और सरकार पर गन्ना बकाया को लेकर दबाव डाल रहे है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here