चीनी मिलों ने खटखटाया शासन का दरवाजा

334

मेरठ : उत्तर प्रदेश की कई चीनी मिलें किसानों का गन्ना भुगतान करने में नाकाम रही है, जिससे किसान जगह जगह विरोध प्रदर्शन भी कर रह रहे है। कई मिलें गन्ने का पूरा भुगतान करना तो चाहती है, लेकिन उनके सामने तरलता की समस्या है। अब किसानों का भुगतान जल्द से जल्द करने के लिए बिजनौर व बिलाई चीनी मिल ने सरकार से गुहार लगाई है, क्योंकि दोनों मिलों की करीब 140 करोड़ रुपये सब्सिडी सरकार पर बकाया है। दोनों मिलों की प्रबंधन ने दावा किया की, सरकार द्वारा अगर सब्सिडी की रकम तुरन्त मिल जाती है, तो वह आसानी से गन्ना भुगतान कर सकते है।

बिलाई चीनी मिल ने तकरीबन 399 करोड़ का गन्ना खरीदा था और 219 करोड़ का भुगतान अब तक किया है। 179 करोड़ का लगभग भुगतान अभी होना है। बिजनौर चीनी मिल ने 110 करोड़ का गन्ना खरीदकर अब तक 57 करोड़ का भुगतान किया है। 53 करोड़ का भुगतान अब भी करना है। भुगतान को लेकर गुस्साए किसान विरोध प्रदर्शन करने के तैयारीयों में जुट गये है। सरकार द्वारा बिजनौर मिल को 30 करोड़ और बिलाई मिल को 109 करोड़ की सब्सिडी मिलनी है। मिल प्रबंधन ने कहा की, अगर सरकार द्वारा सब्सिडी का भुगतान किया जाता है, तो हम जल्द से जल्द किसानों का भुगतान कर सकेंगे।

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here