मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा बंद पड़ी चीनी मिलों को संजीवनी देने का काम

288

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश में बंद पड़ी चीनी मिलों को फिर से शुरु करने का काम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ योगी ने अपने हाथों में लिया है। उन्होंने राज्य की बंद पड़ी मिलों को पुनर्जीवित करने का बीडा उठाया है और अधिकारियों को इस काम पर लगाया है।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने हाल ही में पिपराइच चीनी मिल का उदघाटन किया है औऱ आज उन्होंने मुंडेरवा चीनी मिल का भी उद्घाटन किया। उनका उद्देश्य कभी चीनी का कटोरा कहे जाने वाला पूर्वांचल को फिर से जागृत करना है। मिलों के बंद होने से किसानों में निराशा थी और उन्होंने गन्ने की खेती करना लगभग बंद कर दिया था। चीनी मिलों के बंद होने से हजारों लोग बेरोजगार हो गये थे।

मुख्यमंत्री चीनी मिलों में एथेनॉल के उत्पादन पर भी जोर दे रहे हैं। पिपराइच चीनी मिल देश की पहली मिल है जहां एथेनॉल का बड़े पैमाने पर उत्पादन होने लगा है।

उत्तर प्रदेश के गन्ना मत्री सुरेश राणा ने कहा कि पहले की सरकारों ने यहां के गन्ना किसानों के 70 हजार करोड़ रुपए अब तक नहीं चुकाया है। श्री योगी की सरकार सतत नई चीनी मिलें लगवा रही है। साथ ही गन्ना किसानों को उनके बकाये का पूरा भुगतान करने पर भी जोर दे रही है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here