चीनी मिल प्रबंधन शीघ्र करे गन्ना मूल्य का भुगतान : एसडीएम

735

उपजिलाधिकारी ज्योति राय ने ग्राम प्रधानों को पत्र लिखकर अपने-अपने गांवों में मुनादी कराकर किसानों को यथाशीघ्र गन्ना मिल में पहुंचाने की जानकारी देने के निर्देश दिए हैं। ¨सभावली चीनी मिल प्रबंधन द्वारा गन्ने की पेराई बंद करने का नोटिस जारी करने के बाद उन्होंने यह कदम उठाया है। उन्होंने मिल प्रबंधन को गन्ने के भुगतान में तेजी लाने के आदेश दिए हैं। उन्होंने मिल प्रबंधन से कम से कम दो से तीन करोड़ रुपये प्रतिदिन भुगतान करने के लिए कहा है।

¨सभावली मिल प्रबंधन ने 25 मई को नोटिस जारी कर किसानों से केवल 26 मई की रात आठ बजे तक गन्ना खरीदने की जानकारी दी थी। इसके बाद से किसान लगातार बुग्गियों और ट्रैक्टर ट्रॉलियों में गन्ना लेकर मिल परिसर में पहुंच रहे हैं। मिल के मुख्य द्वार पर वाहनों की कतार लगी हुई है। इस दौरान मिल प्रबंधन ने उपजिलाधिकारी को बताया कि किसानों से 24 मई तक 171.82 लाख ¨क्वटल गन्ना खरीदा गया है, जिसकी कीमत 54638.76 लाख रुपये है। इसमें से मिल ने 22046.90 लाख रुपये का भुगतान किसानों को कर दिया गया है। अब किसानों का चीनी मिल पर 32231.86 लाख रुपये बकाया है। इस दौरान 1909410 ¨क्वटल चीनी का उत्पादन हुआ। जिसमें से 1070333 ¨क्वटल चीनी की बिक्री की जा चुकी है। इस समय मिल के गोदामों में 826535 ¨क्वटल चीनी का स्टॉक है, जिसकी कीमत 22316.50 लाख रुपये अनुमानित है। उपजिलाधिकारी ने ¨सभावली चीनी मिल प्रबंधन को निर्देशत किया है कि वह किसानों को प्रतिदिन दो से तीन करोड़ रुपये का भुगतान करने की व्यवस्था करे। इस संबंध में सोमवार को बैठक भी बुलाई गई है।

SOURCEJagran

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here