तय नहीं किया गया गन्ने का भाव; चीनी मिलों में शुरू हो गई पेराई

284

बड़ौत: उत्तर प्रदेश के किसानों ने प्रदेश में वर्ष 2019-20 के दौरान 400 रुपए गन्ने के मूल्य तय करने का अनुरोध किया। गौरतलब है कि गन्ने का पेराई सत्र आरंभ हो चुका है लेकिन गन्ने की खरीद कीमत अभी तक तय नहीं की गयी है।

किसानों की छछरपुर गांव में इस बारे में एक बैठक हुई है। सभी किसानों ने यहां एकमत से सरकार से प्रदेश सरकार से गन्ना मूल्य बढ़ाने की मांग की। बैठक में पंचायत के प्रधान अनिल कुमार एडवोकेट ने कहा कि मलकपुर चीनी मिल में पेराई शुरू हो चुकी है। रमाला चीनी मिल में भी जल्द पेराई होने वाली है। किसान चिंतित हैं क्योंकि प्रदेश सरकार ने अभी तक गन्ने का मूल्य घोषित नहीं किया है। पंचायत में महिपाल, सुरेन्द्र, अजित, प्रमोद, सुक्रमपाल, शरद, दिलावर, हरपाल, सत्यपाल आदि शामिल रहे। इस बैठक का संचालन गौरव ने किया।

बिना तय मूल्य के गन्ना देना किसानों को जोखिम लगता है क्योंकि पहले ही बागपत की चीनी मिल किसानों का बकाया भुगतान नहीं दे रही हैं। गन्ना दे भी दें तो पर्चियों के नाम पर धोखाधड़ी की जाती है, ऐसा किसान आरोप लगाते है। पर्चियां न मिलने के कारण किसानों को कई कई दिनों तक गन्ना छीलने का काम करना पड़ता है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here