बारिश के कारण धीमी हुई चीनी मिल की गन्ना पेराई

392

सोनीपत: जिले में हो रही कई दिनों से भारी बारिश के कारण गन्ने मिल तक नहीं पहुंच रहे हैं। गन्ना किसानों के खेतों में गन्ने खड़े हैं, लेकिन उनकी कटाई नहीं हो पा रही। किसानों का कहना है कि बारिश के कारण वाहनों को खेतों तक ले जाना मुश्किल हो रहा है। अधिक वजन के कारण गन्ने से लदी ट्राली मिट्टी में धंस जाती है। इस कारण सोनीपत के चीनी मिल में हर दिन केवल 21-22 हजार क्विंटल चीनी ही पहुंच रहा है जबकि मिलों की पेराई क्षमत 25 हजार क्विंटल है। चीनी मिलों ने इस कारण अपनी पेराई क्षमता भी धीमी कर दी है।

खबरों के मुताबिक ,बारिश से प्रभावित किसानों को पर्चियां जारी पहले ही की गई है, लेकिन वे भी मिल तक गन्ना लेकर नहीं पहुंच पा रहे। गौरतलब है कि गन्ने के पेराई सत्र में कुल 33 लाख क्विंटल गन्ने की आवश्यकता होती है जबकि इनकी प्रति दिन की पेराई क्षमता 25 हजार क्विंटल है। किसानों का कहना है कि इस बारिश में गन्ने की कटाई के लिए मजदूर भी नहीं मिल रहे हैं और जो हैं वे बारिश में कटाई नहीं करना चाहते। इसका असर चीनी मिलों की पेराई पर पड़ा है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here