चीनी मिलों पर अब होगी पैनी नजर

1018

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

लखनऊ : चीनी मंडी – उत्तर प्रदेश में पेराई के वक्त किसानों से होनेवाली धोखाधड़ी अब इससे आगे नही होगी, क्योंकि उत्तर प्रदेश में अगले सीझन से सहकारी चीनी मिलों के संचालन के समय निगरानी की जिम्मेदारी जिलाधिकारियों को सौंपी है। शुरू सीझन में छोटे गन्ना किसानों को पेराई के समय काफी जद्दोजहद करनी पड़ी थी, काफ़ी समय तक गन्ना कटाई न होने से किसानों में आक्रोश था। खेतों में खड़े खड़े गन्ना सुख रहा था, जिससे किसानों को नुकसान उठाना पड़ा। इसीलिए यूपी की सहकारी चीनी मिलों के संचालन को दुरुस्त बनाने की कवायद शुरू हो गई है।

प्रदेश के गन्ना आयुक्त संजय भूसरेड्डी ने प्रदेश के सभी डीएम, डीसीओ और मिलों के प्रबंधकों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हालात की जानकारी ली। साथ ही नए पेराई सत्र में मिलों के संचालन की निगरानी की जिम्मेदारी जिलाधिकारियों को सौंपी है। इस फैसले से किसानों को कुछ हद तक राहत मिल सकती है।बैठक में मिलों के संचालन, ट्रांसपोर्ट और श्रमिक भर्ती समेत अन्य मुद्दों पर चर्चा हुई।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here